Home हैल्थ और फिटनेसवजन बढ़ाना और घटाना Weight loss tips at home in hindi | जल्दी से वजन कम करने का आयुर्वेदिक तरीका

Weight loss tips at home in hindi | जल्दी से वजन कम करने का आयुर्वेदिक तरीका

by Foggfitness
0 comment

Table of Contents

आजकल की खराब दिनचर्या और खानपीन के कारण मोटापा (Obesity) एक बहुत बड़ी समस्या बन चूका है। विज्ञान और हेल्थ एक्सपर्ट का मानना है कि बढ़ता हुआ मोटापा बिमारियों का संकेत होता है। अगर वक्त रहते इसका उपचार न किया जाए तो यह हमारे लिए घातक (danger) सिद्ध हो सकता है। इसीलिए हम आपको weight loss tips at home के बारे में बताएँगे। जिससे आप आसानी से घर पर ही अपने weight loss कर लेंगे।

Weight loss करना ज्यादा मुश्किल कार्य नहीं होता है। कुछ लोगों का मानना है कि वजन या मोटापा कम करना बहुत मुश्किल कार्य होता है। ऐसा लोगों को इसलिए लगता है क्योंकि वह अपनी दिनचर्या और खानपीन को ठीक नहीं कर पाते हैं। जिसके चलते उन्हें वजन कम करना एक बहुत बड़ा पहाड़ लगता है।

आयुर्वेद के अनुसार मोटापा कम करने के लिए अगर दिनचर्या और डाइट में हल्का बदलाव किया जाए और उस बदलाव को निरंतर कुछ सप्ताह तक लगातार किया जाए तो मोटापा बहुत तेजी से कम किया जा सकता है।

लोग जिम जाते हैं और खूब सारा पसीना बहाते हैं लेकिन उन्हें परिणाम नहीं मिल पाते हैं। जिससे वह काफी निराश हो जाते हैं और कुछ लोग तो स्ट्रेस या डिप्रेशन में भी चले जाते हैं। Weight loss करने के लिए लोग कई तरह की एक्सरसाइज और डाइट प्लान का इस्तेमाल करते हैं। फिर भी वह वजन कम नहीं कर पाते हैं।

इस आर्टिकल में आपको जल्दी से Weight loss करने का सबसे आसान आयुर्वेदिक और घरेलू तरीके बताएँगे जिनके इस्तेमाल से आप बहुत ही कम समय में मोटापे से छुटकारा पा सकते हैं।

और पढ़ें: पेट और कूल्हों की चर्बी कैसे कम करें

मोटापा क्या होता है – What is obesity in hindi

“जब हमारे शरीर की मांसपेशियों के ऊपर चर्बी (fat) जमा होने लगती है और जिससे शरीर का आकार बिगड़ने लगता है उसे मोटापा कहा जाता है।”

ज्यादातर जिन लोगों का मेटाबोलिज्म BMR कमजोर या धीमा होता है उनके शरीर में चर्बी जमा होनी शुरू हो जाती है जो की मोटापे का रूप ले लेती है। असल में चर्बी को ही मोटापा कहा जाता है। चर्बी सबसे पहले पेट में जमना शुरू होती है और उसके बाद शरीर के सभी हिस्सों तक पहुंचना शुरू हो जाती है।

पुरुषों में सबसे ज्यादा पेट पर चर्बी जमा होती है लेकिन महिलाओं (women) में सबसे पहले कूल्हों पर जमना शुरू होती है और उसके बाद धीरे-धीरे पेट की तरफ जमना शुरू होती है

ऐसा लगातार होने की वजह से शरीर में मोटापा बढ़ने लगता है जो कि बाद में एक बहुत बड़ी समस्या बन जाता है। शरीर का आकार बिगड़ जाता है और लोगों के बीच शर्मिंदगी महसूस होने लगती है।

वजन या मोटापा बढ़ने के कारण – Reasons for gaining weight or Weight loss tips at home in hindi

इसके बढ़ने के कई कारण हो सकते हैं। कई बार शरीर में ऐसी बीमारी लग जाती है जिससे शरीर फूलने लगता है। वजन या मोटापा बढ़ने का सबसे मुख्य कारण हमारे जीवन की खराब दिनचर्या और गलत भोजन (खानपीन) है।

आयुर्वेद में बिलकुल सपष्ट शब्दों में लिखा हुआ है कि जो व्यक्ति अपनी दिनचर्या में भोजन को ठीक तरीके से तथा पौष्टिक आहार नहीं लेता है उसका शरीर मोटापे का शिकार बनता है। जिसके साथ-साथ कई तरह की बिमारियों का भी जन्म होता है।

आजकल सबसे ज्यादा फ़ास्ट फ़ूड, मीठा और ड्रिंक का सेवन किया जा रहा है जो कि मोटापा बढ़ने का सबसे बड़ा कारण माना जाता है।

लोग अपने जीवन में इतने व्यस्त हो चुके हैं कि उन्हें अपने शरीर की तरफ देखने तक का समय नहीं है। उन्हें जब जो मिलता है खा-पी लेते हैं। लोग इस बारे में सोचना भी पसंद नहीं करते कि जो कुछ वह खाते है क्या शरीर इससे सवस्थ रहेगा या फिर शरीर के लिए यह हानिकारक हो सकता है।

अगर हम सभी खानपीन से पहले अपने शरीर की तरफ ध्यान दें और यह समझ लें की हमारे स्वास्थ्य के लिए क्या जरुरी है और फिर उन चीज़ों का सेवन करें तो हम मोटापे और बिमारियों से बचे रह सकते हैं। ज्यादातर मोटापा बढ़ने के मुख्य कारण निम्नलिखित हैं :

१. खराब दिनचर्या।
२. गलत खानपीन।
३. फ़ास्ट फ़ूड का सेवन करना।
४. स्ट्रेस और तनाव में रहना।
५. एक्सरसाइज न करना
६. समय पर भोजन न करना।
७. पर्याप्त नींद न लेना।
८. नाश्ता न करना।
९. शरीर में पानी की कमी होना।
१०. बुरी आदतों का होना
इत्यादि।

मोटापा बढ़ने से होने वाली समस्याएं – Obesity problems & Weight loss tips at home in hindi

मोटापा या वजन का शरीर में लगातार बढ़ने से कई तरह की समस्यायों का निर्माण होने लगता है। यह समस्याएं एक ही बार में जन्म नहीं लेती हैं बल्कि जैसे-जैसे मोटापा बढ़ता है बीमारियां भी बढ़ने लगती है। मोटापा बढ़ने से जो मुख्य बीमारियां देखि गयी हैं वो निम्नलिखित हैं :

१. ह्रदय रोग।
२. उच्च रक्तचाप अथवा हाई ब्लड प्रेशर।
३. फैटी लिवर। (लिवर के आसपास चर्बी का जमा होना )
४. कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना।
५. डिप्रेशन की समस्या।
६. कैंसर।
७. डायबिटीज।
८. हार्ट अटैक।
९. पाचन तंत्र सम्बंधित समस्या इत्यादि।

इस तरह की बीमारियां अभी तक हेल्थ एक्सपर्ट और विज्ञान के द्वारा मोटापा बढ़ने पर देखी गयी हैं। इसके अलावा भी अन्य कई तरह की समस्याएं शरीर में पनपने लगती हैं, जब मोटापा बढ़ने लगता है। जिसके चलते यह गंभीर होने लगती है और शरीर को ख़त्म कर देती हैं। हमें इस तरह की बिमारियों से बचने के लिए शरीर को सवस्थ तथा मोटापे से मुक्त रखना चाहिए।

वजन कम करने का आयुर्वेदिक और घरेलू तरीका – Ayurvedic and home remedies for weight loss tips at home in hindi

आयुर्वेद के अनुसार “जब आप काम पर नहीं होते हैं, तो आप दिन भर में कैलोरी की मात्रा बढ़ाकर चर्बी को कम कर सकते हैं”। चर्बी को कम करने के लिए यह आवश्यक है कि आप अपने बेसल मेटाबॉलिक रेट (BMR) को बढ़ाएं। अगर शरीर का बेसल मेटाबोलिक रेट और मांसपेशियों में वृद्धि की जाए तो शीघ्रता से चर्बी को कम किया जा सकता है। आपके शरीर में जितनी अधिक मांसपेशी सक्रिय होगी, उतना ही अधिक मेटाबोलिज्म होगा, और जिसके माध्यम से आपके शरीर की चर्बी कम हो जाएगी।

बेसल मेटाबोलिक रेट BMR में वृद्धि करने के लिए आपको दिनभर पौष्टिक आहार का सेवन करना है। हम आपको एक उदाहरण से समझाते हैं – आप एक दिन में जो भी भोजन करते हैं उसको 5 से 6 हिस्सों में बाँट लीजिये। अब आप पूरे दिन में 1 से 2 घंटे के बीच-बीच इसका सेवन करते रहें। ऐसा करने से आपका मेटाबोलिज्म लगातार कार्य करना शुरू कर देगा और धीरे-धीरे यह तेज होने लगेगा।

मेटाबोलिज्म तेज करने से भोजन अच्छी तरह से पचना शुरू हो जाता है। यह हमारे शरीर में अच्छी ऊर्जा का निर्माण करने लगता है और जमा हुई चर्बी को भी तेजी से जलाने लगता है। मेटाबोलिज्म को तेज करने के लिए आपको धैर्य की आवश्यकता होगी। एक ही दिन में यह तेज नहीं हो जायेगा बल्कि इसके लिए कुछ दिन लगेंगे। आप अपनी रूटीन को लगातार बना कर रखें और इसे बिगड़ने न दें। अगर आप अपने मेटाबोलिज्म को तेज कर लेते हैं तो आपके मोटापे को कम होने से कोई नहीं रोक सकता है।

कुछ लोगों का एक प्रश्न होता है कि हमें कैसे पता चलेगा कि हमारा मेटाबोलिज्म तेज हो रहा है? इसका उत्तर यह है : जैसे ही आपका मेटाबोलिज्म तेज होने लगता है तो शरीर में ऊर्जा का विस्तार होने लगता है। आपको भूख ज्यादा लगने लगती है और शरीर में फुर्ती रहती है। आप अपने आप में सवस्थ महसूस करने लगते हैं। इसके अलावा आप देखते हैं कि आप पहले से पतले होने लगे हैं और आपका वजन भी कम होने लगा है।

आइये जानते हैं कि जल्दी से वजन कम करने का सबसे आसान आयुर्वेदिक और घरेलू तरीकों के बारे में, जिनसे आप तेजी से अपने वजन या मोटापे को कम कर सकते हैं :

१. शरीर में पानी की कमी न होने दें

इस बात का खास तौर पर ध्यान रखें कि शरीर में पानी की कमी न हो सके। पानी शरीर के लिए बहुत उपयोगी होता है जो शरीर से विषैले पदार्थों को बहार निकलता है। जब शरीर में पर्याप्त पानी नहीं होता है तो यह विषैले पदार्थ शरीर के अंदर अपना घर बना लेते हैं। जो की तरह-तरह की बिमारियों को जन्म देने लगते हैं। अगर शरीर में पानी की मात्रा ठीक रहती है तो यह शरीर से बहार निकल जाते हैं और स्वास्थ्य भी अच्छा रहता है। एक दिन में लगभग 4 से 5 लीटर पानी पीना आवश्यक है। आयुर्वेद में मोटापे को कम करने अथवा बिमारियों से बचने के लिए पानी का बहुत महत्त्व बताया गया है। पानी का शरीर में पर्याप्त मात्रा में होने से weight loss होने लगता है।

२. सिंपल तथा रिफाइंड कार्बोहइड्रेट से दूर रहें

सिंपल एवं रिफाइंड कार्बोहइड्रेट से सभी तरह के पोषक तत्व और फाइबर इत्यादि निकाले जा चुके होते हैं। जिनका सेवन करने से शरीर में ऊर्जा के बजाये बिमारियों का निर्माण होता है। इस तरह के भोजन बहुत शीघ्रता से पच जाते हैं और मेटाबोलिज्म को ज्यादा कार्य नहीं करना पड़ता है। जिसके चलते बेसल मेटाबोलिक रेट गिरने लगता है और weight gain होने लगता है। इसलिए आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि आप भोजन में सिंपल या रिफाइंड कार्बोहइड्रेट का इस्तेमाल न करें।

सिंपल एवं रिफाइंड कार्बोहइड्रेट: मैदा एवं उससे बनी हुई चीज़ें, सफ़ेद चावल, सफ़ेद ब्रेड, पास्ता, नूडल्स, फ़ास्ट फ़ूड और चीनी इत्यादि।

३. प्रोटीन युक्त पौष्टिक आहार खाएं

एक स्वस्थ शरीर पाने के लिए हमें शरीर की जरुरत के हिसाब से भोजन करना चाहिए। शरीर को स्वस्थ रखने के लिए प्रोटीन बहुत ही आवश्यक होता है। यह बहुत धीरे-धीरे पचते हैं जिससे मेटाबोलिज्म तेज होता है और शरीर में काफी लम्बे समय तक ऊर्जा बनी रहती है। आप जानते ही होंगे कि शरीर की मांसपेशियों का निर्माण प्रोटीन के द्वारा ही होता है। इसके साथ-साथ प्रोटीन शरीर में मांसपेशियों के निर्माण के साथ उनकी मरम्मत का कार्य भी करता है। बहुत सारे ऐसे भोजन हैं जिनमे प्रोटीन काफी और प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। कुछ लोग प्रोटीन सप्लीमेंट का इस्तेमाल भी करते हैं ताकि शरीर में प्रोटीन की मात्रा बानी रहे।

प्रोटीन के लिए मांसाहारी भोजन: मीट, मांस, मछली, अंडा, चिकन, पनीर, दूध, और दालें इत्यादि।

प्रोटीन के लिए शाकाहारी भोजन: दूध, पनीर, दालें, सोयाबीन, राजमा और छोले इत्यादि।

४. चीनी और उससे बने भोजन से दूर रहें

हमारे देश में मिठाई को बहुत महत्त्व दिया जाता है। कुछ लोगों की मान्यता होती है कि खाने के बाद कुछ मीठा खाना चाहिए। इससे भोजन अच्छे से पचता है। यह बात बिलकुल सही है कि भोजन के बाद मीठा खाने से भोजन पचता है। लेकिन यह अच्छे से पचने के बजाये तेजी से पचने लगता है जिसका स्वास्थ्य पर बहुत बूरा प्रभाव पड़ता है। मीठा खाने से शरीर में इन्सुलिन बढ़ने लगता है जो कि भोजन को तेजी से पचाने लगता है और उससे उत्पन्न हुई ऊर्जा को इस्तेमाल करने के बजाये भविष्य के लिए चरबी के रूप में स्टोर करने लगता है। जब ऐसा कई बार होता है तो धीरे-धीरे शरीर में चर्बी बढ़ने लगती है और कुछ समय बाद हम इसे मोटापे का नाम दे देते हैं। इसीलिए जितना हो सके चीनी और उससे बने हुए उत्पादों से दूर रहने का प्रयास करें।

५. फलों और सब्जियों का भरपूर सेवन करें

वजन कम करने के लिए हमें पौष्टिक आहार ही लेना चाहिए। जिससे शरीर सवस्थ अथवा मजबूत बना रहता है। बीमारियां भी शरीर से कोसों दूर रहती हैं। फलों और सब्जियों में प्रचुर मात्रा में फाइबर, विटामिन, मिनरल तथा अन्य खनिज लवण पाए जाते हैं। जिनकी आवश्यकता हमारे शरीर को लगातार बनी रहती है।

जब हम इनका सेवन करते हैं तो इनमे मौजूद फाइबर इन्हे तेजी से नहीं पचने देते हैं। जिससे मेटाबोलिज्म को तेज करने में मदद मिलती है। मेटाबोलिज्म के तेज होने से जमा हुई चर्बी को ईंधन के रूप में इस्तेमाल किया जाता है और वजन कम करने में सहायता मिलती है। आपने अक्सर देखा होगा जब शरीर में कोई बीमारी लगती है तो डॉक्टर हमें फलों को खाने की सलाह देते हैं। ऐसा इसलिए किया जाता है जिससे शरीर में फाइबर, विटामिन और मिनरल इत्यादि की कमी को पूरा किया जाए। जिससे शरीर बीमारी से लड़कर हमें सवस्थ रखे।

६. सुबह खाली पेट गुनगुने पानी में निम्बू का सेवन करें

आयुर्वेद में सुबह उठते ही खाली पेट कम से कम 1 लीटर गुनगुने पानी को पीने की सलाह दी जाती है। जिससे पेट की अच्छे से सफाई की जा सके। जब हम रात में सोते हैं तो कई तरह के बैक्टीरिया हमारे शरीर में प्रवेश कर जाते हैं। इनमे से कुछ अच्छे बैक्टीरिया होते हैं और कुछ बुरे बैक्टीरिया भी होते हैं। अच्छे बैक्टीरिया शरीर में जाकर उसे सवस्थ करने का कार्य करते हैं। बुरे बैक्टीरिया को शरीर एक तरफ कर देता है और उन्हें बाहर निकालने का प्रयास करता है। लेकिन उन्हें बाहर निकालने के लिए शरीर को कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। यह काम आसानी से हो सके इसके लिए सुबह उठते ही पानी पीने की सलाह दी जाती है ताकि सभी तरह के विषैले पदार्थ और बैक्टीरिया को शरीर से बहार निकला जा सके। इससे पेट की अच्छे सफाई होती है और शरीर रोगमुक्त रहता है।

निम्बू में सिट्रिक एसिड भरपूर मात्रा में पाया जाता है। जो कि मेटाबोलिज्म को सवस्थ रखने में मदद करता है। यह शरीर को बिमारियों से लड़ने के लिए मजबूती प्रदान करता है। यह शरीर में सुरक्षा कवच की तरह कार्य करता है। जब आप गुनगुना पानी पीते हैं तो शरीर का तापमान स्थिर बना रहता है। उसमे किसी तरह का बदलाव देखने को नहीं मिलता है। जब हम गुनगुने पानी में निम्बू डालकर सेवन करते हैं तो इससे पाचन तंत्र अच्छे से काम करने लगता है और जमा हुई चर्बी को ऊर्जा के रूप में इस्तेमाल करने लगता है। इससे वजन कम करने में काफी मदद मिलती है।

७. भोजन को 5 से 6 हिस्सों में भिवाजित करें

वजन या मोटापा कम करने के लिए पाचन तंत्र का स्वस्थ एवं तेज होना अति आवश्यक होता है। आप पूरे दिन में जो भी डाइट लेते हैं उन्हें 5 से 6 हिस्सों में भिवाजित करें। ऐसा करने से आपके शरीर को लगातार ऊर्जा मिलती रहेगी और पाचन तंत्र में भी सुधार आएगा। आपकी पाचनशक्ति जितनी तेज और मजबूत होगी उतनी तेजी से वजन कम होगा। पाचनशक्ति को तेज करने का सिर्फ एक ही उपाय है कि इसे दिनभर पौष्टिक आहार दिया जाए ताकी यह ठीक तरीके से अपना कार्य करता रहे और शरीर में चर्बी को जमा न होने दे।

८. रोजाना एक्सरसाइज करने की आदत डालें

एक्सरसाइज करना हमारे शरीर के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। जो लोग नियमित रूप से एक्सरसाइज करते रहते हैं उनके शरीर में बहुत कम मोटापा देखने को मिलता है। वह बिमारियों से भी कोसो दूर रहते हैं। व्यायाम करते रहने से शरीर की सभी मांसपेशियां सक्रीय रहती हैं। इनके सक्रिय रहने से शरीर रोगमुक्त रहता है। मांसपेशियां सक्रिय होने से शरीर को ज्यादा ऊर्जा की आवश्यकता होती है जिसके लिए जमा हुई चर्बी को ऊर्जा के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। जिससे वजन कम करने में काफी मदद मिलती है।

९. अपनी डाइट को ठीक करें

आयुर्वेद के अनुसार शरीर को सवस्थ रखने के लिए एक्सरसाइज की भूमिका 20% तथा भोजन की भूमिका 80% होती है। इसलिए हमें सबसे ज्यादा ध्यान अपनी डाइट पर देना होता है। यही वो जरिया है जहाँ से वजन कम भी किया जा सकता है और बढ़ाया भी जा सकता है। कुछ लोग रोज एक्सरसाइज तो करते हैं लेकिन भोजन पर ध्यान नहीं देते है। इसलिए उन्हें परिणाम देखने को नहीं मिलते हैं। जिसके कारण वह निराश हो जाते हैं और इसे असंभव बताने लगते हैं। जब उन्हें कोई परिणाम देखने को नहीं मिलते तो वह एक्सरसाइज करना भी छोड़ देते हैं। इसीलिए अगर आप वजन को सही तरीके से कम करना चाहते हैं तो आपको डाइट और एक्सरसाइज दोनों पर ध्यान केंद्रित करना होगा। आपको निश्चित रूप से परिणाम देखने को मिलेंगे।

वजन कम करने के लिए कौन-कौन सी एक्सरसाइज करें – Exercises everyday for weight loss tips at home in hindi

ऐसे तो वजन या मोटापा कम करने की बहुत सारी एक्सरसाइज हैं लेकिन हम आपको कुछ ऐसी एक्सरसाइज के बारे में बताएँगे जिनसे शीघ्रता से वजन को कम किया जा सकता है। हम आपको आयुर्वेद के द्वारा मान्यता प्राप्त एक्सरसाइज के बारे में बताएँगे जिन्हे आप कहीं पर भी कर सकते हैं। इसके लिए आपको जिम जाने की आवश्यकता नहीं होगी। यह कुछ ऐसी एक्सरसाइज हैं जिन्हे आप रोजाना अपने जीवन में बड़ी ही आसानी से उतार सकते हैं और वजन को कम किया जा सकता है।

१. टहलना, जॉगिंग और दौड़ना – Jogging and running for weight loss tips at home in hindi

weight loss tips at home in hindi

टहलना, जॉगिंग करना और दौड़ने से weight तेजी से कम किया जा सकता है। जब हम इस एक्सरसाइज को करना शुरू करते हैं तो शरीर के लगभग सभी मसल काम करने लगते हैं। इसका अर्थ यह है कि शरीर को ज्यादा ऊर्जा की आवश्यकता होती है। जब शरीर को पर्याप्त ऊर्जा नहीं मिल पाती है तो यह चर्बी या मोटापे को ऊर्जा के रूप में इस्तेमाल करने लगता है। जिससे वजन कम होने लगता है और मोटापे से छुटकारा भी मिलता है। इस एक्सरसाइज को करने से मसल भी मजबूत होते हैं। ह्रदय को मजबूत करने का इससे अच्छा व्यायाम और कोई नहीं है। इससे फेफड़ों की क्षमता को भी विकसित किया जा सकता है। अगर आप इस एक्सरसाइज को लगतार करते हैं तो आप देखेंगे कि शरीर पतला होना शुरू हो जायेगा और मोटापा गायब होने लगेगा।

२. रोजाना अपनी मनपसंद गेम खेलें – Play your favourite game for weight loss tips at home in hindi

Play your favourite game daily to lose weight

आयुर्वेद में इस प्रक्रिया को बहुत ही महत्त्व दिया गया है और इसे सबसे श्रेष्ठ भी माना गया है। हर किसी व्यक्ति की कोई न कोई मनपसंद गेम अवश्य होती है। हम शारीरिक प्रक्रिया/खेल के बारे में बात कर रहे हैं न कि किसी मोबाइल और ऑनलाइन गेम के बारे में। अगर आपकी कोई ऐसी मसपसन्द गेम है जिसमे शरीर का अच्छे से इस्तेमाल हो सके तो वह अवश्य खेलनी चाहिए। ज्यादातर शारीरिक गेम में पूरा शरीर इस्तेमाल होता है जिससे ज्यादा कैलोरी जलने में मदद मिलती है और मोटापा कम होने लगता है। ज्यादा कैलोरी के जलने का अर्थ होता है कि ज्यादा चर्बी का शरीर से खत्म होना। आयुर्वेद और विज्ञान के मुताबिक़ आपको इससे अच्छा व्यायाम और कोई नहीं हो सकता है।

३. रोजाना सीढ़ियां चढ़ना शुरू करें – Climbing stairs for weight loss tips at home in hindi

weight loss tips at home

सीढ़ियां तो हर घर में होती हैं जिससे इस एक्सरसाइज को करना बहुत ही आसान है। Weight loss करने के लिए इस एक्सरसाइज को भी काफी मान्यता प्राप्त है। इसको करने के दौरान शरीर को काफी ऊर्जा की जरुरत होती है। जिसके कारण शरीर को मजबूर होकर चर्बी को उपयोग में लाना पड़ता है। यही कारण है कि इस एक्सरसाइज से वजन को कम किया जा सकता है। ह्रदय एवं फेफड़ों को मजबूत करने के लिए भी इस एक्सरसाइज को बहुत महत्त्व दिया गया है। जो लोग तेजी से अपने वजन को कम करना चाहते हैं उनके लिए यह किसी वरदान से कम नहीं है।

४. नाचना शुरू करें – Dance for weight loss tips at home in hindi

dance

आयुर्वेद के अनुसार व्यक्ति को रोजाना नाचना चाहिए। जब हम नाचना शुरू करते हैं तो शरीर में कई तरह के हॉर्मोन रिलीज़ होने लगते हैं। जिससे तनाव या स्ट्रेस को भी दूर किया जाता है। नाचने से पूरे शरीर का बहुत ही अच्छे से व्यायाम हो जाता है जिससे ज्यादा कैलोरी जलती है। ज्यादा कैलोरी के चर्बी भी कम होने लगती है और वजन कम होता है।

कुछ लोगों का मानना होगा कि उन्हें नाचना नहीं आता तो वह इस एक्सरसाइज को नहीं कर सकते हैं। आपको एक कमरे के अंदर नाचना है न कि किसी और के सामने नाचना है। आपको जैसा भी नाचना आता है आप वैसे ही नाचना शुरू करें। अगर आपको सिर्फ कूदना आता है और कूदना ही शुरू कर दें। आप कुछ ऐसे गाने चलाने का प्रयास करें जिनको सुनते ही आपका नाचने या कूदने को मन करने लगे। अगर आप रोजाना ऐसा करना शुरू करते हैं तो यकीन मानिये स्ट्रेस या तनाव आपके जीवन से गायब हो जायेगा और आप एक खुश रहने वाले व्यक्तियों में शामिल हो जायेंगे। ऐसी एक्सरसाइज से वजन को तेजी से कम होगा।

५. उठना और बैठना शुरू करें – Squat for weight loss tips at home in hindi

weight loss tips at home

आयुर्वेद में साफ़ अक्षरों में लिखा हुआ है कि व्यक्ति को ऐसे व्यायाम करने चाहिए जो उसके शरीर से ही संभव हो सकें। जिसके लिए अन्य किसी तरह के संसाधनों की आवश्यकता न हो। उठना और बैठना एक ऐसी एक्सरसाइज है जिसमे लगभग सभी मसल काम करते हैं। ज्यादातर इसमें टांगों के मसल काम करते हैं जो कि शरीर का 60 से 70% हिस्सा होता है। जिसका मतलब यह है कि शरीर को ज्यादा कैलोरी की आवश्यकता होती है। ज्यादा कैलोरी का जलना मतलब ज्यादा चर्बी का खत्म होना।

बहुत से लोगों को उठने और बैठने में काफी समस्या होती है। उन लोगों को जैसे भी संभव हो सके वैसे एक्सरसाइज को करना चाहिए। आप किसी भी चीज़ का सहारा लेकर इस एक्सरसाइज को करने की शुरुआत कर सकते हैं। जैसे-जैसे आप अभ्यास करते जायेंगे वैसे आपको सहारा लेना भी कम कर देना चाहिए। यकीन मानिये यह एक्सरसाइज आपके घुटनों के दर्द से भी छुटकारा दिलाएगी और उन्हें मजबूत भी बनाएगी। इसके साथ-साथ मोटापा कम करने में भी मदद मिलेगी।

६. शरीर को लचीला बनायें – Flexibility for weight loss tips at home in hindi

weight loss tips at home

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए लचीलापन बहुत आवश्यक होता है। जब शरीर लचीला होता है तो मसल अच्छे से अपनी क्षमताओं का इस्तेमाल कर पाते हैं। इससे भी वजन कम करने में काफी मदद मिलती है। शरीर में लचीलापन लाने के लिए आपको योग को महत्त्व देना चाहिए। इससे आपके शरीर के सभी ज्वाइंट फ्लेक्सिबल रहेंगे और आपको चोट लगने का खतरा भी कम होगा।

७. रोजाना प्लान्क करें – Plank for weight loss tips at home in hindi

weight loss tips at home

यह एक ऐसी एक्सरसाइज है जिसमे सबसे ज्यादा कैलोरी को जलाया जा सकता है। जिससे मोटापा तेजी से कम किया जा सकता है। इस एक्सरसाइज के दौरान शरीर एक ही अवस्था में स्थिर रखना होता है। जिसमे बहुत ज्यादा ऊर्जा की आवश्यकता होती है। पूरे शरीर को कुछ समय के लिए स्थिर रखना कोई आम बात भी है। सारे शरीर का भार आपके पेट, बाजुओं और कमर पर होता है। जिसमे शरीर के लगभग सभी मसल अपना योगदान देते हैं और ज्यादा ऊर्जा खर्च होती है। जिसमे ज्यादातर ऊर्जा आपके शरीर में जमा हुई चर्बी से प्राप्त होती है और वजन भी कम होता है।

निष्कर्ष – Conclusion for weight loss tips at home in hindi

वजन को बड़ी ही आसानी से कम किया जा सकता है। इसके लिए आपको कुछ ज्यादा करने की आवश्यकता नहीं होती है। सिर्फ अपनी दिनचर्या और डाइट को ठीक करके आप तेजी से वजन को कम कर सकते हैं। बहुत सारे लोग आपको वजन कम करने के लिए अलग-अलग बातें बताते हैं। लेकिन हर कोई बात हर किसी के ऊपर लागू नहीं की जा सकती है। इसलिए हमने आपको कुछ आयुर्वेदिक और नेचुरल तरीके बताये हैं जिनसे यकीनन वजन को तेजी से कम किया जा सकता है।

आपको इस आर्टिकल में बताई हुई सभी बातों पर अपने ध्यान को केंद्रित करना होगा तभी आपको परिणाम मिलेंगे। इसके साथ-साथ आपको थोड़ा धैर्य भी बना कर रखना होगा क्यूंकि एक ही दिन में परिणाम नहीं मिलते हैं। कुछ लोगों का कहना होता है कि वजन कम करना बहुत मुश्किल होता है। लेकिन यह एक ग़लतफहमी है क्योंकि अगर आप सही दिशा में और ठीक रूटीन में काम करेंगे तो यह बहुत ही आसान है।

You may also like

Leave a Comment

हमारे बारे में

Foggfitness भारत में स्थित एक ऑनलाइन वेबसाइट है जिसका मुख्य उद्देश्य लोगों को उनके स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करना है। इसके साथ ही हमारा मकसद लोगों को फिटनेस के प्रति भी जागरूक करना है। इस वेबसाइट में हर दिन कई ब्लॉग लिखे जाते हैं, जिसमें लोगों को हर जानकारी दी जाती है।

नवीनतम लेख

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More