Home दवाइयां हिमालया गैसेक्स टैबलेट की जानकारी, लाभ, साइड इफेक्ट्स और पूछे जाने वाले कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न

हिमालया गैसेक्स टैबलेट की जानकारी, लाभ, साइड इफेक्ट्स और पूछे जाने वाले कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न

by Foggfitness

Table of Contents

हिमालया गैसेक्स टैबलेट की जानकारी, लाभ, साइड इफेक्ट्स – Himalaya gasex tablet uses in hindi

Himalaya gasex tablet uses: हिमालया गैसेक्स टैबलेट एक बहुत ही जानी मानी और इस्तेमाल की जाने वाली दवाओं में से एक है। यह एक ऐसी दवाई है जो हिमालया कंपनी के द्वारा तैयार की जाती है। इस दवाई को मुख्यतः पेट की गैस, मरोड़, गैस का दर्द और पाचन तंत्र जैसे रोगों के इलाज के लिए किया जाता है। कुछ दूसरी बिमारियों के लिए भी डॉक्टर इस दवाई का इस्तेमाल करते हैं। इस दवाई की खुराक आपको कितनी लेनी चाहिए यह डॉक्टर आपकी बीमारी को देखते हुए ही तय करते हैं। लेकिन ज्यादातर इस दवाई का इस्तेमाल गैस जैसी बिमारियों के इलाज के लिए ही किया जाता है।

हिमालया गैसेक्स टैबलेट को इस्तेमाल करने से होने वाले लाभ – Himalaya gasex tablet uses benefits in hindi

  • पेट की गैस (मुख्य रूप से)
  • कब्ज
  • पेट में पड़ने वाले मरोड़ (मुख्य रूप से)
  • अपच
  • गैस का दर्द (मुख्य रूप से)
  • भूख में कमी
  • पाचन तंत्र की बीमारियां (मुख्य रूप से)
  • सीने की जलन
  • बदहजमी (मुख्य रूप से)

हिमालया गैसेक्स टैबलेट का इस्तेमाल ज्यादातर पेट की बिमारियों के लिए ही किया जाता है। यह एक आयुर्वेदिक दवा है जिससे आपको इन समस्याओं से बहुत जल्दी छुटकारा मिलता है।

हिमालया गैसेक्स टैबलेट को इस्तेमाल करने से होने वाले नुक्सान – Himalaya gasex tablet side effects in hindi

हिमालया गैसेक्स टैबलेट एक आयुर्वेदिक दवाई है जिसके अभी तक कोई भी साइड इफेक्ट्स नहीं देखे गए हैं और न ही इसकी कोई जानकारी उपलब्ध है। आयुर्वेदिक दवाइयों में बहुत कम साइड इफेक्ट्स देखने को मिलते हैं इसलिए आप निश्चिन्त रूप से आयुर्वेदिक दवाइयों का इस्तेमाल कर सकते हैं। कोई भी दवाई लेते समय कृपया डॉक्टर से परामर्श अवश्य कर लें।

हिमालया गैसेक्स टैबलेट की खुराक – Himalaya gasex tablet dosage in hindi

हर प्रकार की दवाइयों की खुराक मरीज की बीमारी के हिसाब से तय की जाती है। अगर बीमारी कुछ ज्यादा ही गंभीर होगी तो अवश्य ही डॉक्टर दवाई की मात्रा को बढ़ा सकते हैं। लेकिन बीमारी अगर हलकी है तो दवाई की मात्रा को कम किया जा सकता है। कोई भी डॉक्टर आपको दवाई देने से पहले आपके लिंग, उम्र और वजन को ध्यान में रखता है और एक खुराक तय करता है। इसलिए आपको हमेशा कहा जाता है कि आपको कोई भी दवाई लेने से पहले डॉक्टर से अवश्य बात करनी चाहिए। इस दवाई का उपयोग आपको लम्बे समय तक करना पड़ सकता है क्योंकि यह आयुर्वेदिक दवाई है।

आयुर्वेदिक दवाइयों के कार्य करने की क्षमता धीमी होती है लेकिन इनके परिणाम बहुत अच्छे देखने को मिलते हैं। यह धीमा इसलिए काम करती हैं ताकि व्यक्ति पर कोई साइड इफ़ेक्ट न हो। इसलिए जब भी आप आयुर्वेदिक दवाइयों को इस्तेमाल करें तो धैर्य बना कर रखें।

हिमालया गैसेक्स टैबलेट की सामग्री – Himalaya gasex tablet ingredients in hindi

सामग्री मात्रा
विडंगा (एम्बेलिआ रिब्स)22 मिलीग्राम
त्रिफला 22 मिलीग्राम
प्रतिविशा 65 मिलीग्राम
सूंठी 22 मिलीग्राम
कौड़ी भस्म 32 मिलीग्राम
शंख भस्म 32 मिलीग्राम
पाइपर नाइग्रम19 मिलीग्राम

हिमालया गैसेक्स टैबलेट की कीमत – Himalaya gasex price in hindi

यह दवाई हिमालया ड्रग कंपनी के द्वारा बनायीं जाती है जिसकी कीमत ₹120.00 है। जिसमे एक डिब्बी में आपको 100 टेबलेट मिलती हैं। यह आपको किसी भी मेडिकल स्टोर पर बहुत ही आसानी से उपलब्ध हो जाएगी। इस दवाई के लिए आपको डॉक्टर की पर्ची की भी आवशयकता नहीं होती है।

हिमालया गैसेक्स टैबलेट से सम्बंधित पूछे जाने वाले प्रश्न – Himalaya gasex FAQs

1. क्या हिमालया गैसेक्स टैबलेट का इस्तेमाल गर्वभती महिलाएं कर सकती हैं?

अभी तक जितनी भी रिसर्च की गयी हैं उनमे यह पता नहीं चल पाया है कि इस दवाई का इस्तेमाल प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए ठीक है या नहीं। इसलिए इस दवाई को लेने से पहले आप डॉक्टर से सलाह अवश्य करें।

2. क्या हिमालया गैसेक्स टैबलेट का इस्तेमाल स्तनपान करवाने वाली महिलाएं कर सकती हैं?

अभी तक जितनी भी रिसर्च की गयी हैं उनमे यह पता नहीं चल पाया है कि इस दवाई का इस्तेमाल स्तनपान करवाने वाली महिलाओं के लिए ठीक है या नहीं। इसलिए इस दवाई को लेने से पहले आप डॉक्टर से सलाह अवश्य करें।

3. हिमालया गैसेक्स टैबलेट का पेट पर क्या असर होता है?

इस दवाई का इस्तेमाल पेट से सम्बंधित बिमारियों के लिए ही किया जाता है इसलिए आप निश्चिन्त होकर इस दवाई का सेवन कर सकते हैं। यह पेट के लिए सुरक्षित होती है।

4. हिमालया गैसेक्स टेबलेट को एक दिन में कितनी बार लेना चाहिए?

यह मरीज की स्थिति पर निर्भर करता है कि डॉक्टर के हाथ आपकी कौन सी बीमारी लगी है। सभी रोगियों की स्थिति अलग-अलग होती है। इसलिए इस बारे में डॉक्टर की सलाह लें।

5. हिमालया गैसेक्स टेबलेट का इस्तेमाल खाली पेट करना चाहिए या कुछ खाने के बाद करना चाहिए?

ज्यादातर सभी दवाइयों को लेने की सलाह खाना खाने के बाद ही दी जाती है। लेकिन जब डॉक्टर आपकी बीमारी की जांच करते हैं तो उनके आधार पर डॉक्टर आपको दवाई को कैसे लेना है और कब लेना है यह सब बताते हैं।

You may also like

Leave a Comment