Home हैल्थ और फिटनेस हेल्थ चेकअप की पूरी जानकारी | Health check up in hindi

हेल्थ चेकअप की पूरी जानकारी | Health check up in hindi

by Foggfitness
0 comment

Health check up in hindi: हेल्थ चेकअप से तात्पर्य यह है कि पूरे शरीर की जांच करवाना या इंसानी शरीर का सामान्य परिचय परीक्षण जिसे किसी डॉक्टर के द्वारा किया जाता है जिसके अंतर्गत शरीर की तंत्रिका तंत्र, फेफड़े तंत्र, पाचन तंत्र, लीवर, थायराइड, हृदय, यकृत, गुर्दे, हड्डियों और रक्त से संबंधित सबसे आम स्वास्थ्य स्थितियों आदि शामिल होते हैं।

इसके अलावा, यह विटामिन बी 12 और विटामिन डी जैसे विटामिनों के लिए भी परीक्षण करता है। हमे साल में एक बार अपने पुरे शरीर की जांच करवाना चाहिए जिससे हम बिमारियों की चपेट से बच सकें।

हेल्थ चेकअप के दौरान आपका डॉक्टर आपसे आपके दैनिक कार्यों जैसे खाने, सोने और मल त्याग के बारे में कुछ प्रश्न पूछेगा। प्रारंभिक परीक्षा के आधार पर, आपका डॉक्टर आगे के परीक्षणों की सिफारिश करेगा। इस सामान्य स्वास्थ्य जांच सूची में रक्त, मूत्र परीक्षण, एक्स-रे और अल्ट्रासाउंड आदि शामिल होते हैं।

नियमित चिकित्सा जांच (Health check up in hindi) सभी के लिए आवश्यक है। चूंकि शारीरिक रोग किसी को भी प्रभावित कर सकते हैं, इसलिए सभी व्यक्ति के लिए जांच आवश्यक है। चाहे व्यक्ति की उम्र, लिंग, व्यवसाय, जातीयता और संस्कृति कुछ भी हो।

शारीरिक स्वास्थ्य जांच को न केवल चिकित्सा मुद्दों का पता लगाने के लिए डिज़ाइन किया जाता है, बल्कि जोखिम वाले कारकों और बीमारियों की पहचान करने से पहले वे समस्याएं पैदा करना शुरू कर देते हैं। स्वास्थ्य जांच का उद्देश्य न केवल व्यक्ति को बीमारियों और उसकी जटिलताओं को रोकने में मदद करना है बल्कि लंबी अवधि के स्वस्थ जीवन के लिए जीवनशैली में बदलाव लाना भी है।


हेल्थ चेकअप क्यों जरुरी है? Health check up in hindi

हेल्थ चेकअप इसलिए जरूरी है ताकि किसी भी बीमारी का समय से पहले पता लगाया जा सके। कुछ बीमारियां आखिरी स्टेज में व्यक्ति को जोखिम में डाल देती हैं। ज्यादातर इंसान जब तक बीमार नहीं होता है या उसे अपने अंदर बीमारी के लक्षण नजर नहीं आते हैं, तब तक वह अपनी बॉडी का चेकअप नहीं कराते हैं। जिससे उन्हें अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। क्योंकि जब बीमारी अपने लक्षण दिखाने लगती है तो इसका यह मतलब है कि बीमारी शरीर में काफी हद तक बढ़ चुकी है।

कुछ बीमारी जैसे कि कैंसर जो कि व्यक्ति को बहुत ही जोखिम में डाल देते हैं। इसलिए बीमारी से बचने के लिए और किसी भी तरह की कोई समस्या शरीर में पैदा ना हो, हमें हर साल अपने पूरे शरीर का चेकअप करवाना आवश्यक होता है। जिससे हम स्वस्थ रह सकें। अगर कोई छोटी बीमारी या किसी भी बीमारी की शुरुआत हमारे शरीर में बन रही है, हमें समय से उसका पता चल सके और उस बीमारी को बढ़ने से पहले ही खत्म किया जा सके। हमारे स्वास्थ्य के लिए हेल्थ चेकअप साल में एक बार कराना बहुत ही जरूरी होता है।


और जानिए:


हेल्थ चेकअप कराने के फ़ायदे – Benefits of Health check up in hindi

  • फुल बॉडी चेकअप कराने पर हमें अपनी बीमारी की स्टेज पता चल जाती है। अगर हमें कोई बीमारी होने वाली है या कुछ लक्षण शरीर में दिखाई दे रहे हैं, तो फुल बॉडी चेकअप के दौरान हमें पता चल जाता है। जिसका समय से इलाज किया जा सकता है।
  • नियमित रूप से फुल बॉडी चैकअप कराने के दौरान, हम अपने शरीर की समस्याओं को रोक सकते हैं। शरीर में होने वाली किसी भी बीमारी को रोक सकते हैं। उदाहरण के लिए, यदि आप शुगर और कोलेस्ट्रॉल की जांच करते हैं, तो आपको पता चल जाएगा कि भविष्य में आपको शुगर/कोलेस्ट्रॉल होने की कितनी संभावना है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि यदि आप सीमा रेखा पर हैं, तो डॉक्टर आपको अपने शुगर के सेवन को नियंत्रित करने की सलाह देते हैं। इसलिए आप अपने स्वास्थ्य पर नियंत्रण रख सकते हैं।
  • नियमित रूप से फुल बॉडी चैकअप से कैंसर, सर्जरी या अन्य बड़ी बीमारी के जोखिम से बच सकते हैं।
  • हेल्थ चेकअप के दौरान कम स्टेज पर ही बीमारी का पता लगाया जा सकता है तो उसका समय से इलाज हो जाता है और समय से इलाज होने पर इलाज का खर्चा भी कम आता है और जिससे की बीमारी सही होने के ज्यादा संभावना रहती है। क्योंकि बीमारी का पता पहले स्टेट में पता लगाया जा चुका था।
  • अपने शरीर और स्वास्थ्य की नियमित जांच करके आप आश्वस्त रह सकते हैं कि आप कितने स्वस्थ हैं। डॉक्टर से निवारक सलाह लेने और डॉक्टर के नुस्खे का पालन करने से आपकी उम्र भी बढ़ सकती है।
  • ज्यादातर लोग नियमित फुल बॉडी हेल्थ चैकअप कराने से झिझकते हैं। लेकिन यह स्वस्थ जीवन जीने के लिए और लंबा जीवन जीने के लिए बहुत ही आवश्यक है।
  • फुल बॉडी चेकअप से यह जानकारी मिलती है की आप सही डायट और वर्कआउट फॉलो कर रहें हैं या नहीं।

फुल बॉडी चेकअप के दौरान होने वाले टेस्ट- Test of Health check up in hindi

बॉडी चेकअप कराते समय हमारे अनेक प्रकार के टेस्ट होते हैं। जिनके बारे में नीचे दी गई जानकारी निम्नलिखित है।

ब्लड टेस्ट -Blood test

फुल बॉडी चेकअप के दौरान सबसे पहले ब्लड टेस्ट किया जाता है यह एक सामान्य टेस्ट है। ज‍िसकी मदद से आपको कोलेस्‍ट्रॉल का स्‍तर, ब्‍लड शुगर, क‍िडनी और लीवर फंक्‍शन, हीमोग्लोबिन का स्तर, पॉलिमोर्फ्स, लिंफोसाइट, मोनोसाइट, प्लेटलेट्स आद‍ि का पता चलता है। ज‍िन लोगों को फ्लू या डेंगू आदि के लक्षण होते हैं, उनका पता भी ब्‍लड टेस्‍ट की मदद से लगाया जा सकता है।

यूरिन टेस्ट – Urine test

यूरिन टेस्ट के जरिए प्रोटीन और ग्लूकोस का पता लगाया जा सकता है कि क्या आपके शरीर में इन सब की मात्रा सामान्य है या नहीं।

ईसीजी टेस्‍ट – ECG test

फुल बॉडी चैकअप में ईसीजी टेस्ट भी किया जाता है। ईसीजी टेस्ट आपके हृदय की गति को मापने के लिए किया जाता है। साथ ही यह चेक किया जाता है कि क्या आपके हृदय की गति सामान्य है या नहीं और हृदय गति को माप कर उससे जुड़ी बीमारियों का पता लगाया जाता है।

पल्‍मोनरी फंक्‍शन टेस्‍ट – Pulmonary function test

पल्मोनरी फंक्शन टेस्ट या पीएफटी परीक्षणों का एक सेट है जिसका उपयोग फेफड़ों के कामकाज को निर्धारित करने, मापने या निरीक्षण करने के लिए किया जाता है। इस्तेमाल किए जाने वाले सबसे आम पल्मोनरी फंक्शन टेस्ट स्पिरोमेट्री, गैस प्रसार, और लंग प्लेथेसमोग्राफी हैं.

लिवर फंक्शन टेस्ट – Liver function test

यह टेस्ट आपके रक्त में प्रोटीन या एंजाइम के स्तर का पता लगाकर लिवर के सूजन या किसी अन्य क्षति की पहचान करने में मदद करता है।


फुल बॉडी चेकअप के दौरान ध्यान रखने योग्य बातें – Things to keep in mind during full body checkup

  • यदि आप हेल्थ चेकअप टेस्ट कराने जा रहे हैं तो आपको मौजूदा समय में अगर किसी भी तरह की कोई एलर्जी है या फिर दवाई आप ले रहे हैं, तो उसकी जानकारी डॉक्टर को अवश्य दें।
  • आपको किसी भी तरह की कोई बीमारी के लक्षण अपने अंदर दिखाई पड़ते हैं तो भी चेकअप के दौरान डॉक्टर को सभी तरह की जानकारी दें।
  • अगर आपको लगता है कि आपके परिवार में हिस्ट्री में कोई बीमारी रही है तो उसकी जानकारी भी डॉक्टर को अवश्य दें।
  • यदि आपको पहले कोई बीमारी रह चुकी है। यह किसी भी तरह की कोई सर्जरी या दवाइयां चली है तो हेल्थ चेकअप के दौरान अपने डॉक्टर को जरूर बताएं।
  • इसके अलावा अगर आपको कोई खाने पीने में किसी भी तरह की कोई एलर्जी है तो भी अपने डॉक्टर को अवश्य जानकारी दें।

You may also like

Leave a Comment

हमारे बारे में

Foggfitness भारत में स्थित एक ऑनलाइन वेबसाइट है जिसका मुख्य उद्देश्य लोगों को उनके स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करना है। इसके साथ ही हमारा मकसद लोगों को फिटनेस के प्रति भी जागरूक करना है। इस वेबसाइट में हर दिन कई ब्लॉग लिखे जाते हैं, जिसमें लोगों को हर जानकारी दी जाती है।

नवीनतम लेख

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More