Home स्वास्थ्य और फिटनेस Chai peene ke nuksan | जानिए चाय का सेवन करने से शरीर में क्या-क्या नुक्सान होते हैं। चाय पीने के साइड इफेक्ट्स

Chai peene ke nuksan | जानिए चाय का सेवन करने से शरीर में क्या-क्या नुक्सान होते हैं। चाय पीने के साइड इफेक्ट्स

by Foggfitness

जानिए चाय का सेवन करने से शरीर में क्या-क्या नुक्सान होते हैं। चाय पीने के साइड इफेक्ट्स

Chai peene ke nuksan: आजकल ऐसा कौन है जो चाय का दीवाना न हो, अगर आप भी चाय पीने के शौक़ीन हैं तो आपको सावधान होने की बहुत आवश्यकता है। क्योंकि इसे आपके शरीर और स्वास्थ्य को कई तरह के नुक्सान हो सकते हैं। चाय आपकी सेहत को नुक्सान पहुंचा सकती है। अपने कामकाज में ज्यादा व्यस्त रहने वाले लोग अक्सर चाय पीने के लिए ब्रेक लेते रहते हैं लेकिन शायद उनको यह नहीं पता कि इस ब्रेक के दौरान वो अपने शरीर को कितनी मुसीबत में डाल रहे हैं।

हम ऐसा नहीं कह रहे हैं कि चाय पीने से केवल नुकसान ही होता है, बल्कि हम यह कहना चाह रहे हैं कि ज्यादा चाय का सेवन करने से आपको समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। कुछ लोग तो अपने बिस्तर से तभी उठते हैं जब तक वो चाय का सेवन न कर लें अन्यथा वो पूरा दिन भी लेटे रह सकते हैं। चाय का सेवन आपके शरीर के लिए लाभदायक हो सकता है अगर आप इसे सही मात्रा में और सही समय पर लें तो यह आपके शरीर को ताजगी से भर देगा। हम इस आर्टिकल में जानेंगे उन सबसे खतरनाक नुकसान के बारे में जो शरीर को ज्यादा चाय का सेवन करने से होते हैं।

ह्रदय सम्बंधित बिमारियों को निमंत्रण: Chai peene ke nuksan

अगर आप ज्यादा चाय का सेवन करते हैं या बिना वक्त और सेहत को ध्यान में रखते हुए इसका सेवन करते हैं तो आप अपने दिल की बिमारियों को खुला निमंत्रण दे रहे हैं। चाय में बहुत अधिक मात्रा में कैफीन पाया जाता है जो आपके कार्डिओवैस्क्युलर स्यतेम के लिए बिलकुल भी ठीक नहीं है। चाय पीने से भले ही आपके दिल को तसाली मिल जाए लेकिन इस तसल्ली से साथ-साथ आपको बीमारियां भी मुफ्त में मिलेंगी। चाय पीने से दिल की धड़कन तेज होने लगती है और काम करते वक़्त सांस भी ज्यादा फूलने लगती है जिससे बीमारियां आपके शरीर में उत्पन्न होने लगती हैं और आप बिमारियों से घिर जाते हैं। इसलिए जितना हो सके आपको चाय का सेवन कम करना चाहिए।

सीने में जलन और परेशानी की समस्या:

चाय का ज्यादा सेवन करने से आपके सीने में जलन पैदा होने लगती है जिससे कई तरह की बिमारियों का निर्माण होता है। यह इसलिए होता है क्योंकि चाय पेट में एसिड फार्मेशन को बढ़ा देती है जिसके कारण ज्यादा एसिड रिलीज़ होने लगता है और जलन पैदा होने लगती है। जो लोग खाली पेट चाय का सेवन करते हैं उनको अपनी इस आदत से सावधान हो जाना चाहिए अन्यथा परिणाम घातक हो सकते हैं।

आँतों पर चाय का गंभीर असर:

ज्यादा चाय पीने से आँतों में समस्याएं उत्त्पन्न होने लगती हैं जिससे खाना ठीक से हजम नहीं हो पाता है और शरीर में दिक्कत होने लगती है। चाय पीने से आंतें खराब होने की समस्याएं भी देखी गयी हैं जिससे शरीर लगभग खराब ही हो जाता है क्योंकि भोजन का पाचन शरीर में नहीं हो पाता है। इसलिए आपको चाय पीने से पहले अपने शरीर और सेहत के बारे में अवश्य विचार कर लेना चाहिए।

अनिद्रा और बेचैनी की समस्या: Chai peene ke nuksan

चाय पीने का यह नुकसान बहुत सारे लोगों में देखा गया है और आज भी बहुत सारे लोग इस समस्या से जूझ रहे हैं। ज्यादा चाय का सेवन करने से नींद कम होने लगती है जिससे शरीर को पर्याप्त आराम नहीं मिल पाता है और बेचैनी की समस्या होने लगती है। शरीर बेचैन रहने लगता है, स्ट्रेस बढ़ने लगता है और व्यक्ति डिप्रेशन में भी चला जाता है। व्यक्ति को अनिद्रा की समस्या होने लगती है। इसलिए जितना हो सकते चाय का सेवन कम करें और अपने स्वास्थ्य को सुरक्षित रखें और शरीर को पर्याप्त आराम करने दें।

मोटापा बढ़ने का खतरा:

हम आपको बता दें कि चाय पीने से शरीर में मोटापा बढ़ने लगता है। चाय में शुगर का इस्तेमाल किया जाता है जिससे इन्सुलिन तेजी से बढ़ने लगता है और खाये हुए भोजन को जल्दी से मोटापे में बदलने लगता है। मोटापा बढ़ने के साथ-साथ शरीर में कई तरह की बिमारियों का निर्माण होने लगता है। मोटापा शरीर के लिए बिलकुल भी ठीक नहीं है इसलिए जितना हो सके शरीर में मोटापे को बढ़ने से रोकें और कम से कम चाय का सेवन करें।

त्वचा का काला पड़ जाना:

आपको इस बात का हमेशा ध्यान रखना चाहिए कि ज्यादा चाय पीने से हमारी त्वचा का रंग भी चाय की तरह हो जाता है। चाय में कैफीन होने के कारण यह त्वचा पर भी असर करता है जिससे त्वचा काली पड़ जाती है। चेहरे पर फुंसियां और झाइयां पड़ने लगती हैं और चेहरा खराब होने लगता है। इसलिए जितना आपसे संभव हो सके कम से कम चाय का सेवन करें ताकि आपको इन समस्यायों का सामना न करना पड़े।

महिलाओं के लिए गर्भपात की समस्या:

चाय का सेवन महिलाओं के लिए गर्भावस्था के दौरान हानिकारक सिद्ध हो सकता है। जैसा कि हमने आपको बताया कि चाय में कैफीन पाया जाता है जो गर्भ में बच्चे के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक सिद्ध हो सकता है। जिससे गर्भपात का खतरा हमेशा बना रहता है। इसलिए अगर आप अपना और अपने बच्चे के स्वास्थ्य के प्रति सजग हैं तो गर्भावस्था के दौरान चाय का सेवन न करें।

अन्य बिमारियों को निमंत्रण: Chai peene ke nuksan

अभी तक हमने आपको जो समस्याएं बताई हैं ये सब बहुत गंभीर समस्याएं हैं लेकिन इनके अलावा भी ऐसी बहुत सारी छोटी-छोटी सम्याएं होती हैं जो स्वास्थ्य को बिगाड़ने में पूरी मदद करती हैं। अगर आप ज्यादा चाय पीने के शौक़ीन हैं तो यह छोटी बीमारियां कब बड़ी हो जाएँगी आपको पता भी नहीं चलेगा। अगर आप चाय का सेवन सही मात्रा में करते हैं तो यह आपके लिए और आपके स्वास्त्य के लिए लाभदायक सिद्ध हो सकती है।

You may also like

Leave a Comment